Breaking

Jan 11, 2023

बेटे का शव लेकर एसएसपी कार्यालय पहुंचा सिपाही, बिलखते हुए पूछा कि साहब अब किसके लिए करें नौकरी।

 इटावा में तैनात एक सिपाही अपने दो वर्षीय बच्चे का शव लेकर एसएसपी ऑफिस पहुंच गया। सिपाही ने आरोप लगाया कि उसकी पत्नी के 3 ऑपरेशन हुए हैं। वह बच्चे और पत्नी की देखभाल के लिए अवकाश मांग रहा था। लेकिन अवकाश स्वीकृत नहीं हुआ। घर में बच्चे को देखने वाला कोई नहीं था।
इसी वजह से बुधवार की सुबह बच्चा घर के पास पानी के गहरे गड्ढे में गिर गया। हादसे में उसकी मृत्यु हो गई। कांस्टेबल का कहना है कि विभाग उसको छुट्टी न देने की वजह तो बताए। उसके बच्चे की मौत का आरोपी वह किसको मानें ?
 मामला इटावा की फ्रेंड्स कॉलोनी थाना क्षेत्र की एकता कॉलोनी का है। मूल रूप से मथुरा निवासी सिपाही सोनू  7 जनवरी से छुट्टी मांग रहा था। पंरतु अफसर उसकी छुट्टी मंजूर नहीं कर रहे थे। सिपाही का बेटा बुधवार सुबह घर के बगल में पानी भरे गड्ढे में गिर गया था।

सोनू चौधरी इस समय पुलिस लाइन में तैनात था। एकता कॉलोनी में वह किराए पर रह रहा था। उसकी पत्नी कविता करीब 15 दिनों से बीमार चल थी। कविता और अपने 2 साल के बेटे हर्षित की देखभाल के लिए सोनू छुट्टी मांग रहा था।
 सोनू ने बताया कि उसने 7 जनवरी को प्रार्थना पत्र एसपी सिटी को दिया था, लेकिन छुट्टी स्वीकृत नहीं हुई। बुधवार सुबह खेलते समय उसका बेटा हर्षित घर के बगल में स्थित पानी भरे गड्ढे में गिर गया। थोड़ी देर बाद जब तलाश शुरू हुई, तो हर्षित गड्ढे में मिला। उसे जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उसको मृत घोषित कर दिया।

 (फोटो 1 में गमगीन सिपाही सोनू चौधरी और फोटो 2 में बेटे के शव को कंधे पर लेकर जाता हुआ सिपाही सोनू चौधरी) 

No comments: