Breaking






Apr 13, 2024

April 13, 2024

अध्यापक का काला कारनामा, शिष्या को बनाया हवस का शिकार, अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी

लखनऊ - जालौन में एक अध्यापक ने गुरू शिष्य के रिश्ते को तार तार कर दिया, अध्यापक ने नाबालिग छात्रा के साथ किया दुष्कर्म कर उसका अश्लील वीडियो बना लिया। आरोप है कि अध्यापक छात्रा को पढ़ाने उसके घर जाता था, इसी दौरान टीचर ने छात्रा अश्लील वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म किया। अश्लील वीडियो एक साल पहले का बताया जा रहा है। मामले से तंग छात्रा ने परिजनों को पूरा प्रकरण बताया तो परिजन सन्न रह गए। परिजनों की शिकायत पर जालौन कोतवाली नगर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया। 


April 13, 2024

कांग्रेसियों ने जलियांवाला बाग के अमर शहीदों को किया नमन

 कांग्रेसियों ने जलियांवाला बाग के अमर शहीदों को किया नमन

बहराइच। स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान बहुचर्चित जलियांवाला बाग कांड स्मृति दिवस पर शनिवार को कांग्रेसजनों द्वारा विनय सिंह के अगुवाई में ब्लॉक चित्तौरा मुख्यालय पर स्थापित सेनानी स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर व सामूहिक शैल्यूट देकर जलियांवाला बाग कांड में अमर शहीदों, स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को सप्रेम नमन् किया गया। तत्पश्चात भारतीय राष्ट्रीय मजदूर कांग्रेस इण्टक के जिलाध्यक्ष पंडित देवेंद्र मिश्र के संयोजन में शहीद नमन प्रेरणा सभा में उपस्थित होकर कांग्रेस नेताओं ने जलियांवाला बाग कांड पर विस्तार से चर्चा करते हुए अमर शहीदों से प्रेरणा लेकर वर्तमान चुनौतियों से मुकाबला करने का संकल्प लिया। उक्त दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता विनय सिंह ने कहा कि अत्यंत क्रूर एवं तानाशाह अंग्रेजी शासक जनरल डायर के इशारे पर जलिया वाला बाग में ताबड़तोड़ फायरिंग की गई। जिसमें कई दर्जन भारतीय किसानों को गोलियों से छलनी कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया था। इस दौरान इण्टक के जिलाध्यक्ष देवेंद्र मिश्र, कांग्रेस नेता दीपेंद्र वेलदार, सेवादल के पूर्व अध्यक्ष इन्द्र कुमार यादव, मोहम्मद इशारत खान, सरदार राम प्रताप सिंह, राम नरेश यादव, अवधराज पासवान, जगदीश भास्कर सहित कई लोगों ने अपने अपने वक्तव्य के दौरान किसानों के लिए हुए संघर्ष में शहीदों को नमन किया।

April 13, 2024

जलिया वाला बाग के शहीदों को नमन

 जलिया वाला बाग के शहीदों को नमन

सेनानी उत्तराधिकारियों ने मोमबत्ती जलाकर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

जलियांवाला बाग काण्ड की 105वीं बरसी मनाई गई

बहराइच। स्थानीय शहीद स्मारक पर जलियांवाला बाग काण्ड की 105वीं बरसी मनाई गई। इस अवसर पर सेनानी उत्तराधिकारियों ने शहीदों के आत्माओं के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की, और उनके याद में दीपक प्रज्ज्वलित किया। संगठन संरक्षक अनिल त्रिपाठी एडवोकेट ने कहा कि 13 अप्रैल 1919 को अमृतसर के स्वर्ण मंदिर के पास जलियांवाला बाग में अंग्रेज फौजी अफसर जनरल डायर के आदेश पर अंग्रेजी फौज ने वैसाखी पर्व मना रहे निहत्थे अहिंसक नागरिकों पर गोलियां बरसाईं जिससे कई सौ देश भक्त भारत माता की गोद में सो गए और हजारों लोग घायल हुए। संगठन के प्रदेश कार्यवाहक महामंत्री रमेश कुमार मिश्र ने कहा कि 1650 राउंड फायरिंग के बाद भी अंग्रेजी सरकार की घोषणा में कहा गया कि इस कार्यवाही का उद्देश्य बैठक को तितर-बितर करना नहीं बल्कि अवज्ञा के लिए भारतीयों को दण्डित करना था। हालांकि इस घटनाक्रम ने देश के नौजवानों में अत्यधिक जोश भरा और पूरे भारत में इसका विरोध हुआ। संगठन के युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष मुकेश श्रीवास्तव ने कहा कि रिटायर होने के बाद जनरल डायर लंदन में बस गया। सरदार ऊधम सिंह ने 1940 में जलियांवाला बाग नरसंहार के लिए दोषी जनरल डायर को मार दिया, उसे मारकर ऊधम सिंह ने हिन्दू मुस्लिम सिख सभी धर्मों के शहीदों के अपमान का बदला लिया। अन्त में सभी देशभक्तों ने देश के प्रति जलियांवाला बाग के शहीदों से प्रेरणा लेकर राष्ट्रसेवा का संकल्प लिया और कार्यक्रम समाप्त किया गया। इस अवसर पर राकेश चौहान, कुंवर बाल्मीकि, सोनू श्रीवास्तव, संतोष त्रिपाठी, संगठन के शहर अध्यक्ष राजू मिश्र उर्फ मुन्ना भैया सहित तमाम राष्ट्र भक्त मौजूद रहे।

April 13, 2024

सुहागिनों ने गणगौर का किया पूजन अर्चन

 सुहागिनों ने गणगौर का किया पूजन अर्चन


रुपईडीहा, बहराइच। इंडो नेपाल सीमावर्ती क्षेत्र में महिलाओं के लिए अखंड सौभाग्य पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इसमें महिलाओं ने पूजा अर्चना की। ज्ञातव्य हो कि चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया को मनाया जाने वाला गणगौर महा पावन पर्व महिलाओं के लिए अखंड सौभाग्य प्राप्ति का पर्व है। वास्तव में गणगौर पूजन मां पार्वती व भगवान शिव की पूजा का दिन है। अखंड सौभाग्य की कामना का पर्व गणगौर गुरुवार को रुपईडीहा मे परंपरागत रूप से मनाया गया। सुहागिनों ने सुबह विधिवत गणगौर का पूजन किया। नवविवाहिताएं अपने मायके में चली जाती हैं व वहीं पूजन करती हैं। यह पर्व हरियाणा, राजस्थान, पश्चिम उत्तर प्रदेश व जहां इन क्षेत्रों गया मारवाड़ी समाज जहां भी होता है वह इस पर्व को मनाता है। चमकण घाघरो चमकण चीर व गौर हे गणगौर माता खोल किवाड़ी-बाहर ऊबी थारी पूजण वारी आदि मारवाड़ी गीतों से गणगौर का पूजन करती हैं। शाम को पूजन करने बाद स्थानीय राम जानकी मंदिर में बने कुएं में गीत गाती हुई श्रद्धापूर्वक इन प्रतिमाओं को विसर्जित कर देती हैं। रुपईडीहा अग्रवाल परिवार की सुषमा, ऊषा, ज्योति, ऋचा, नेहा, रुचि, ऋतु, शर्मा परिवार की शालिनी, मीना, शिवानी, सीमा, कोमल, विनीता सहित पचासों की संख्या में महिलाएं इस महा पावन पर्व मे शामिल रही।

April 13, 2024

पुलिस ने दो बाइक चोर को किया गिरफ्तार

 


गोण्डा–शुक्रवार को वादी राजेन्द्र कुमार पुत्र मेवाराम नि0 लोकई पुरवा मौजा सीहागांव थाना मोतीगंज जनपद गोण्डा द्वारा मोतीगंज में लिखित तहरीर दी गयी कि दिनांक 11.04.2024 को अज्ञात चोरो द्वारा मेरी प्लेटिना मोटरसाईकिल मेरे घर के बाहर से चोरी कर लिया गया है। वादी की तहरीर के आधार पर थाना मोतीगंज में सम्बन्धित धाराओं में अभियोग पंजीकृत हुआ था तथा विवेचना व0उ0नि0 रामभवन पासवान को सुपुर्द की गयी थी। विवेचना के दौरान प्रकाश में आये 02 आरोपी अभियुक्तों- 01. अजय राठौर, 02. विनय कुमार को आज दिनांक 13.04.2024 को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार अभियुक्तगणों के विरूद्ध थाना मोतीगंज पुलिस द्वारा विधिक कार्यवाही की गयी। 

गिरफ्तार अभियुक्तगण

01. अजय राठौर पुत्र जुलाई नि0 लोकई पुरवा मौजा सिंहागांव थाना मोतीगंज जनपद गोण्डा।

02. विनय कुमार झाकुर नि0 लोकई पुरवा मौजा सिंहागांव थाना मोतीगंज जनपद गोण्डा।

अनावरित अभियोग

01. मु0अ0सं093/24, धारा 379,411 भादवि थाना मोतीगंज जनपद गोण्डा।

बरामदगी

01. 01 अदद प्लेटिना मोटरसाईकिल।

गिरफ्तार कर्ता टीम

01. व0उ0नि0 रामभवन पासवान।

02. उ0नि0 मानिक राज सिंह यादव।

03. हे0का0 राजकरण।

04. का0 गंगाशरण।



April 13, 2024

ईवीएम का प्रथम रैण्डमाईज़ेशन सम्पन्न

 ईवीएम का प्रथम रैण्डमाईज़ेशन सम्पन्न

बहराइच । लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के लिए कलेक्ट्रेट परिसर स्थित जिला सूचना विज्ञान केन्द्र बहराइच में जिलाधिकारी मोनिका रानी द्वारा राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों का विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रवार प्रथम रेण्डमाइज़ेशन का कार्य किया गया।इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव रंजन श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी सदर प्रिंस वर्मा, पयागपुर के दिनेश कुमार, कैसरगंज के पंकज दीक्षित, महसी के अखिलेश कुमार सिंह, मोतीपुर (मिहींपुरवा) के संजय कुमार, नानपारा के अश्वनी पाण्डेय, भाजपा के प्रशासनिक प्रमुख श्रवण कुमार शुक्ला, बसपा के जिलाध्यक्ष अजय कुमार गौतम व जिला प्रभारी अशर्फी लाल गौतम, अपना दल (सोनेलाल) के जिलाध्यक्ष गिरीश पटेल, सपा के जिला उपाध्यक्ष ज़फरउल्लाह खॉ ’बन्टी’, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष गोपीनाथ, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी योगेश यादव, नेटवर्क फील्ड अभियन्ता संदीप द्विवेदी, आई.टी. टीम के सदस्य विजय द्विवेदी मौजूद रहे।

                     

April 13, 2024

राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों के साथ जिलाधिकारी ने की बैठक

 राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों के साथ जिलाधिकारी ने की बैठक

निर्वाचन प्रक्रिया के सम्बन्ध में दी गयी जानकारी

बहराइच । लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 हेतु 56-बहराइच (अ.जा.) निर्वाचन क्षेत्र के लिए नामांकन पत्र, उनकी संवीक्षा, नाम वापसी एवं चुनाव चिन्ह आवंटन का समस्त कार्य कलेक्ट्रेट स्थित न्यायालय जिला मजिस्ट्रेट, बहराइच कक्ष संख्या-02 में सम्पन्न होगा। आयोग द्वारा निर्धारित समयसारिणी केे अनुसार 18 से 25 अप्रैल 2024 तक पूर्वान्ह 11ः00 बजे से अपरान्ह 03ः00 बजे तक (लोक अवकाश को छोड़कर) प्रतिदिन जमा किये जायेंगे। नाम निर्देशनों की संवीक्षा की तिथि 26 अप्रैल, नाम वापसी के लिए अन्तिम तिथि 29 अप्रैल 2024 निर्धारित है। मतदान की तिथि 13 मई 2024 तथा मतगणना की तिथि 04 जून 2024 निर्धारित है। नामांकन के समय प्रत्याशी के लिए 03 वाहन अनुमन्य हैं, जो नामांकन कक्ष के 100 मीटर की दूरी तक आ सकेंगे। जबकि नामांकन कक्ष में अधिकतम 05 व्यक्ति आ सकते हैं। मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी मोनिका रानी ने बताया कि निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थी की आयु 25 वर्ष होनी चाहिए। प्रत्याशी का नाम किसी भी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की मतदाता सूची में सम्मिलित होना चाहिए, यदि अभ्यर्थी अपने से भिन्न निर्वाचन क्षेत्र में नाम निर्देशन प्रस्तुत करता है तो सम्बन्धित विधानसभा क्षेत्र की मतदाता सूची के उद्धरण की प्रमाणित प्रतिलिपि जो जिला निर्वाचन कार्यालय से निर्गत की गयी हो, प्रस्तुत करना अनिवार्य है। मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय/राज्यीय दल के अभ्यर्थी हेतु 01 प्रस्तावक तथा पंजीकृत अमान्यता प्राप्त दल के अभ्यर्थी अथवा निर्दलीय अभ्यर्थी हेतु 10 प्रस्तावकों का होना अनिवार्य है। प्रस्तावक/प्रस्तावकों का उसी लोक सभा में समाष्टि विधानसभा की निर्वाचक नामावली में नाम सम्मिलित होना चाहिए जिस लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी द्वारा निर्वाचन लड़ने हेतु नामांकन पत्र भरा जा रहा हैं। निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थी की आयु कम से कम 25 वर्ष होनी चाहिए, अभ्यर्थी का जाति प्रमाण-पत्र संलग्न करना अनिवार्य है। एक अभ्यर्थीएक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 04 से अधिक नामांकन पत्र नहीं दाखिल कर सकते है। निर्वाचन लड़ने वाले सामान्य जाति के अभ्यर्थियों हेतु रू. 25,000=00 तथा अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के लिए रू. 12,500=00 ज़मानत की धनराशि निर्धारित है। अभ्यर्थी के लिए निर्वान व्यय की अधिकतम सीमा रू. 95,00,000=00 निर्धारित है। मतपत्र के प्रयोगार्थ अभ्यर्थी को (चौड़ाई 2 सेमी. तथा लम्बाई 2.5 सेमी) आकार के 15 फोटो जिसके पीछे अभ्यर्थी या उनके निर्वाचन अभिकर्ता के हस्ताक्षर हों कि आवश्यकता होगी। डीएम ने बताया कि फोटो में चेहरा सीधे कैम्रे की तरफ, आंखे खुली होनी चाहिए। वर्दी में फोटो की अनुमति नहीं है। टोपी/हैट न लगाई जाए। काले रंग का चश्मा भी न लगाया जाय। अभ्यर्थी अपनी सुविधानुसार रंगीन अथवा ब्लैक एण्ड व्हाइट फोटो का उपयोग कर सकते हैं।  डीएम ने बताया कि नो ड्यूज से सम्बन्धित शपथ पत्र संलग्न करना अनिवार्य है। नया प्रारूप-26 (शपथ-पत्र) रिटर्निंग आफिसर के समक्ष अभ्यर्थी द्वारा प्रस्तुत किये जाने वाला शपथ-पत्र संलग्न करना अनिवार्य है। शपथ-पत्र अथवा नामांकन पत्र का कोई भी कालम खाली नहीं छोड़ा जायेगा। जहां कुछ नहीं भरा जाना है वहां पर ‘शून्य’ या ‘लागू नहीं अथवा ‘ज्ञात नहीं’ लिखा जायेगा। शपथ-पत्र में आपराधिक मामले, परिसम्पत्तियों, सरकार के प्रति देयताओं का विवरण, उपजीविका का साधन, आय के श्रोत तथा शैक्षिक योग्यता का विवरण दर्शाया जायेगा। डीएम ने बताया कि आपराधिक मामलों का विवरण आयोग द्वारा निर्धारित प्रारूप सी-1 में प्रकाशित किया जायेगा। ऐसे प्रकाशन के लिए निर्दिष्ट अवधि निम्नलिखित तीन चरणों प्रथम नाम वापसी के पहले चार दिनों के भीतर, द्वितीय अगले पांचवे से आठवें दिनों के भीतर तथा प्रचार के 9वें दिन से आखिरी दिन तक (मतदान के दिन से 02 दिन पहले) प्रकाशित किया जायेगा जिससे मतदाताओं को ऐसे अभ्यर्थियों की पृष्ठभूमि के बारे में जानने के लिए पर्याप्त समय मिल सके। डीएम ने बताया कि अभ्यर्थी द्वारा संविधान के अनुच्छेद 84 (क) या अनुच्छेद 173 (क) के अन्तर्गत प्रतिज्ञान या शपथ लिया जायेगा। मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय/राज्यीय राजनैतिक दलों के अभ्यर्थी को पार्टी के अध्यक्ष द्वारा फार्म ए एवं बी की हस्ताक्षरित मूलप्रति प्रस्तुत करना अनिवार्य है। डीएम ने बताया कि नामांकन पत्र दाखिल करने की तारीख से कम से कम एक दिन पूर्व पृथक बैंक खाता अभ्यर्थी को खोलना होगा। डीएम ने बताया कि इच्छुक अभ्यर्थी सुविधा पोर्टल ‘‘सुविधा डाट ईसीआई डाट जीओवी डाट इन’’ के माध्यम से भी आनलाइन नामांकन कर सकते हैं। डीएम ने यह भी बताया कि केन्द्र/राज्यों के मंत्रियों, सांसद, विधानसभा सदस्यों, विधान परिषद सदस्यों तथा राज्य का सुरक्षा कवर प्राप्त किसी अन्य व्यक्ति को निर्वाचन अभिकर्ता के रूप में नियुक्त नहीं किया जायेगा।इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव रंजन श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी सदर प्रिंस वर्मा, पयागपुर के दिनेश कुमार, कैसरगंज के पंकल दीक्षित, महसी के अखिलेश कुमार सिंह, मोतीपुर (मिहींपुरवा) के संजय कुमार, नानपारा के अश्वनी पाण्डेय, भाजपा के प्रशासनिक प्रमुख श्रवण कुमार शुक्ला, बसपा के जिलाध्यक्ष अजय कुमार गौतम व जिला प्रभारी अशर्फी लाल गौतम, अपना दल (सोनेलाल) के जिलाध्यक्ष गिरीश पटेल, सपा के जिला उपाध्यक्ष ज़फरउल्लाह खॉ ’बन्टी’, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष गोपीनाथ सहित अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे।