Breaking

Jan 16, 2023

ड्रग वेयरहाउस कार्यदायी संस्था एनपीसीसी को डीएम की कड़ी फटकार, कार्यों में सुधार हेतु निर्देश

गोण्डा - सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी डॉ० उज्ज्वल कुमार की अध्यक्षता में जनपद में 50 लाख से ऊपर के चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा की गई। समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने सड़कों एवं अन्य निर्माण कार्यों के संबंध में पीडब्ल्यूडी व सम्बन्धित विभागों को निर्देश दिये कि सभी सड़कें पूरी गुणवत्ता के साथ बनाई जाए। किसी भी सड़क के निर्माण में गुणवत्ता से कोई भी समझौता न किया जाए। यदि किसी सड़क के निर्माण में गुणवत्ता में लापरवाही बरती जाएगी तो संबंधित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जनपद में निर्माणाधीन सभी सड़कों का निर्माण कार्य समय से पूर्ण किया जाए। उन्होंने कहा कि यदि किसी सड़क के निर्माण में बजट के अभाव के कारण रुकावट आ रही है, तो शासन स्तर पर पत्र भेजकर बजट की मांग की जाए, और कार्य प्रारम्भ कराया जाय ताकि कार्य को समय से पूर्ण किया जा सके। बैठक में जिलाधिकारी ने जनपद में हो रहे सड़क निर्माण के कार्यों के प्रगति के संबंध में समीक्षा करते हुए सीएचसी उमरिया, लेखपाल ट्रेनिंग सेंटर, कृषि महाविद्यालय, विधि विज्ञान प्रयोगशाला, अटल आवासीय विद्यालय सिसवा मनकापुर, राजकीय महाविद्यालय, इंजीनियरिंग कॉलेज, आईटीआई परसपुर, महिला छात्रावास, मिनी स्टेडियम नरेचा, स्वच्छ पेयजल, यूपीपीसीएल तथा निर्माण खंड डिवीजन बलरामपुर द्वारा किए जा रहे निर्माण 30वीं पीएसी, मेडिकल कॉलेज, तहसील सदर राजकीय आवास, पर्यटन विभाग सहित कई अन्य विभागों के निर्माण कार्यों के प्रगति की गहन समीक्षा की गई। इसके साथ ही मेडिकल कालेज के निर्माण की प्रगति समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान मेडिकल कॉलेज के निर्माण की समीक्षा किया और निर्देश दिये कि पूरी गुणवत्ता एवं मानक के अनुसार समय से निर्माण कार्य पूरा कराया जाए। बैठक में ड्रग वेयरहाउस के निर्माण कार्यदाई संस्था नेशनल प्रोजेक्ट कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन लिमिटेड को कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा है कि निर्माण कार्य में प्रयोग किए जा रहे सामग्री एवं गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए, यदि निर्माण कार्य में प्रयोग किया जा रहे सामग्रियों में कमी पाई गई तो संबंधित कार्यदाई संस्था के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं बैठक के अंत में जिलाधिकारी ने सभी सड़क निर्माण से संबंधित अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि सभी लोग अपने-अपने सड़कों के निर्माण की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें अन्यथा संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण का कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ समय से कराना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा० रश्मि वर्मा, डीएसटीओ अरुण कुमार सिंह, एडीएसटीओ, एसई विद्युत, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, जिला कृषि अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी राजेश चौधरी, एई ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी गौरव स्वर्णकार, एक्सईएन प्रांतीय खंड प्रमोद त्रिपाठी, एक्सईएन जल निगम, एक्सईएन सीडी-1 लाल जी, सीडी-2 वीके त्रिपाठी, जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार, एक्सईएन यूपी सिडको, सीएनडीएस सहित सभी अधिकारी एवं कार्यदायी संस्था के अधिकारी उपस्थित रहे।
रिपोर्ट-मुन्नू सिंह

No comments: