Breaking

Dec 23, 2022

केडीसी में आयोजित हुआ ‘‘किसान सम्मान दिवस’’



बहराइच । पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह के जन्म दिवस के अवसर पर किसान पी.जी. कालेज में आयोजित किसान सम्मान दिवस पर लगाये प्रदर्शनी पण्डालों का एमएलसी डॉ प्रज्ञा त्रिपाठी ने पयागपुर विधायक सुभाष त्रिपाठी, नानपारा राम निवास वर्मा, बलहा श्रीमती सरोज सोनकर, मा. पयागपुर विधायक प्रतिनिधि निशंक त्रिपाठी, जिलाधिकारी डॉ दिनेश चन्द्र, उप निदेशक कृषि टी.पी. शाही के साथ प्रांगण में कृषि एवं एलाइड विभागों द्वारा लगाये गये 50 स्टालों का निरीक्षण के साथ कृषि विभाग की इन-सीटू योजना के अन्तर्गत कुल 09 कृषक उत्पादक संगठनों के निदेशकों को फार्म मशीनरी बैंक के अन्तर्गत रू. 15-15 लाख की लागत के कृषि यंत्रों पर देय रू. 12-12 लाख अनुदान के स्वीकृति पत्र एवं ट्रैक्टर की चाभी भेंट की। तदोपरान्त पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरण सिंह व पं. दीन दयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलित कर किसान सम्मान दिवस आत्मा किसान मेला, कृषि प्रदर्शनी एवं कृषक वैज्ञानिक संवाद का शुभारम्भ किया। मा. विधायक सुभाष त्रिपाठी एवं मा. विधायक नानपारा राम निवास वर्मा ने उपस्थित किसानों को किसान सम्मान दिवस के अवसर पर सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारी केन्द्र और राज्य की सरकार कृषि एवं किसान कल्याण के हितार्थ बहुत सी योजनाएं संचालित की जा रही है। जिसका सीधा प्रभाव वर्तमान में दिखायी दे रहा है। हमारी सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत साल में रू. 6 हजार सीधे किसानों के बैंक खाते में भेज रही है। जिससे उनकी आय में वृद्धि हो रही है। बीज, खाद आदि के साथ-साथ कृषि यंत्रीकरण योजना के अन्तर्गत 40 से 80 प्रतिशत तक कृषि यंत्रो पर सरकार अनुदान प्रदान कर रही है। जिससे किसानों को खेती करने में आसानी हो रही है तथा उनकी उत्पादकता एवं आय बढ़ रही है।


किसान सम्मान दिवस को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी डॉ चन्द्र ने स्व. चौधरी चरण सिंह के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि चौधरी साहब ने किसानों की समस्याओं को समझा और उसके समाधान के लिए सदैव प्रयासरत भी रहे। यही वजह है कि उन्हें किसानों का मसीहा कहा जाता है और उनके जन्म दिवस को किसान सम्मान दिवस के रूप में मनाया जाता है।डॉ चन्द्र ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ किसानों के कल्याणार्थ दृढसंकल्पित हैं। केन्द्र व राज्य सरकार का प्रयास है कि किसानों की आय दोगुनी हो तथा उनके चेहरे पर खुशहाली आये। उन्होंने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा किसानों के हित में कई महत्वपूर्ण योजनाएं संचालित की जा रही हैं। सरकार द्वारा जहॉ एक ओर किसानों को समय से खाद, बीज व पानी की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है वहीं दूसरी ओर उन्हें उनकी उपज का वाज़िब मूल्य भी दिलाया जा रहा है। किसानों को उनकी मेहनत का वाज़िब मूल्य प्राप्त हो इसके लिए कई जिन्सों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में गुणात्मक वृद्धि की गयी है।  

जिलाधिकारी डॉ चन्द्र ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिले के प्रगतिशील, कर्मठ एवं लगनशील किसान आज ऐसे व्यक्ति की याद में बैठे हैं, जिसने अपना सम्पूर्ण जीवन किसानों की खुशहाली के लिए संघर्ष करते हुए बिता दिया। डॉ चन्द्र ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के कल्याणार्थ संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों को पूरी पारदर्शिता के साथ कार्यान्वित कराया जा रहा है। साथ ही उनकी समस्याओं का भी समाधान किया जा रहा है। उन्होंने लोगों को यह भी बताया कि प्रगतिशील किसानों से अनुभव लेकर अपनी आय को दोगुना करने का प्रयास करें तथा बाज़ार की मांग के अनुसार अपनी खेती में लचीलापन लायें। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद किसानों को भारत माता की जय के नारे भी लगवाये। किसान सम्मान दिवस के अवसर पर किसान सम्मान योजना वर्ष 2022-23 हेतु कृषि विभाग द्वारा  कृषक देशराज, जयशंकर त्रिपाठी, अखिलेश चन्द्र श्रीवास्तव, श्रीमती पुष्पा देवी, निरंजन, बालकराम, जितेन्द्र कुमार व सुरेश कुमार, उद्यान विभाग द्वारा कृषक देशराज पाण्डेय, भोलाराम, माया देवी, अंकित मौर्या, सियाराम, धर्मेन्द सिंह, रेशम विभाग द्वारा केशवराम, संगीता, सांवली व विश्राम, कृषि विज्ञान केन्द्र बहराइच द्वारा कृषक राजेश, विवके चन्द्र, के.वी.के. नानपारा रामबचन, अजीत कुमार, मत्स्य विभाग के आशाराम, गिरजेश प्रताप सिंह, सूर्यकान्त निषाद व राजेश तथा प्राकृतिक खेती करने वाले शिवशंकर सिंह, जितेन्द्र बहादुर सिंह को सम्मानित किया गया। उक्त के अतिरिक्त अन्य क्षेत्रो में विशिष्ट कार्य करने वाले किसानों, व्यक्तियों, उद्यमियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर गौरैया संरक्षण एवं वन एवं वन्य जीव संरक्षण के लिए मिथलेश जायसवाल बलहा को सम्मानित भी किया गया।  प्रमोशन ऑफ एग्रीकल्चर मैकेनाइज़ेशन फार इन-सीटू मैनेजमेन्ट ऑफ क्राप रेज़ीड्यू योजना के अन्तर्गत वर्ष 2022-23 में फार्म मशीनरी बैंक से लाभान्वित कृषक उत्पादक संगठन-प्रयत्न एग्रो फार्मर्स हरदी महसी, कैसरगंज फार्मर्स प्रोडूसर कम्पनी लिमिटेड, लखवापुरबहराइचा जरवल, रामप्यारे, रामदुलारे ब्रदर्श प्रोडूसर कम्पनी लिमिटेड हरिहरपुर पुरैना नवाबगंज, विशेष जैविक किसान प्रोडूसर कम्पनी लिमिटेड भौरी फखरपुर, सदभावना फार्मर्स प्रोडूसर कम्पनी लिमिटेड भोपतपुर चौकी रिसिया, बाबू मगन बिहारी लाल फार्मर्स प्रोडूसर कम्पनी लिमिटेड गौरा, चित्तौरा, हरीराम किसान प्रोडूसर कम्पनी लिमिटेड गिरधरपुर बलहा, ग्राम पंचायत भेड़ियारी एवं कंदरा ग्राम पंचायत को रू. 15 लाख की लागत पर 80 प्रतिशत अनुदान रू. 12-12 लाख अनुदान डीबीटी के माध्यम से उपलब्ध कराया गया। इस अवसर पर डीएचओ पारसनाथ, जिला कृषि अधिकारी सतीश कुमार पाण्डेय, सहायक निदेशक मत्स्य डा. जितेन्द्र कुमार त्रिपाठी, उप सम्भागीय कृषि प्रसार अधिकारी उदयशंकर सिंह, भूमि संरक्षण अधिकारी सौरभ वर्मा, जिला कृषि रक्षा अधिकारी प्रियानन्दा, के.वी.के. बहराइच डॉ शैलेन्द्र सिंह सहित अन्य अधिकारी, कर्मचारी व बड़ी संख्या में प्रगतिशील कृषक लालता प्रसाद गुप्ता, राम फेरन पाण्डेय, शक्तिनाथ सिंह, शंशाक सिंह, बब्बन सिंह, शिव शंकर ंिसह सहित बड़ी संख्या में सैकड़ो महिला एवं पुरूष कृषक तथा कृषि विभाग के क्षेत्रीय कर्मचारी मौजूद रहे।                 

  ःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःः

No comments: