Breaking

Jan 19, 2023

7700 से अधिक किसानों की नहीं हो पाई EKYC

बस्ती ।  में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अन्तर्गत 10099 किसानों का भूलेख अंकन व 7702 की ई-केवाईसी अभी नहीं हो पायी है। कलेक्‍ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान यह सामने आया। प्रभारी डीएम /सीडीओ डॉ. राजेश कुमार प्रजापति ने सभी तहसीलदार एवं बीडीओ को 31 जनवरी तक ईकेवाईसी का कार्य पूर्ण कराने का निर्देश दिया। कहा कि 61080 किसानों का आधार कार्ड फीड कराने तथा 25929 का पीएफएमएस डाटा रिजेक्ट हुआ है, इसे भी सही कराएं।  
         निर्देश दिया कि प्रत्येक ब्लाक से डेली प्रगति रिपोर्ट प्राप्त की जाय। डीपीआरओ सभी गॉव में खुली बैठक कराएं। ऐसे किसान अपना आधार कार्ड एवं खतौनी राजकीय कृषि बीज भण्डार पर जमा करा दें। जिन किसानों का पहले निधि का पैसा खाते में आया है और अब नही आ रहा है, उन्हें निर्धारित प्रारूप पर घोषणा पत्र भी देना होगा।

डाटा फीडिंग किसान के गांव में होगी

बताया कि 17, 23 एवं 30 जनवरी को जनसेवा केन्द्र संचालक ब्लाक के राष्ट्रीय बीज गोदाम पर पूर्ण सिस्टम के साथ बैठेंगे तथा किसानों का डाटा सही करेंगे। शासनादेश के अनुसार नए किसानों की डाटा फीडिंग उसी गांव में होगी, जहां उसका खेत होगा। 1 जनवरी 2019 के बाद खेत खरीदने वाले किसानों को योजना का लाभ नहीं मिलेगा।   

केवाईसी नहीं तो किश्त भी नहीं

उप निदेशक कृषि अनिल कुमार ने बताया कि भूलेख अंकन एवं ई-केवाईसी न होने पर पीएम किसान निधि की 13वीं किश्त नहीं आएगी। बताया कि लेखपाल, कम्प्यूटर आपरेटर का मानदेय तथा स्टेशनरी के लिए बजट प्राप्त हो गया है। सभी तहसीलदार बैंक का शासकीय खाता नम्बर उपलब्ध कराएं।

बैठक में कृषि अधिकारी मनीष सिंह, डीसी एनआरएलएम रामदुलार, लीड बैंक मैनेजर आरएन मौर्या, तहसीलदार मोनिका वर्मा, सत्येन्द्र सिंह, नायब तहसीलदार केके मिश्रा, सभी बीडीओ, बैंक के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।   


         रुधौली बस्ती से अजय पांडे की रिपोर्ट 

No comments: