Breaking

Jan 17, 2023

न्यूड वीडियो के नाम पर फर्जी आईपीएस ने सिपाही से ऐंठे 70 हजार रुपए सिपाही ने न्याय हेतु उच्चाधिकारियों से लगाई गुहार ‌

 आगरा पुलिस लाइन में तैनात पुलिसकर्मी हनी ट्रैप का शिकार हो गया। वॉट्सऐप पर न्यूड गर्ल ने वीडियो कॉल किया। पुलिसकर्मी ने जैसे ही फोन रिसीव किया, थोड़ी देर में फोन डिस्कनेक्ट हों गया। इसके बाद ब्लैकमेलिंग का खेल शुरू हुआ। फर्जी आईपीएस ने उसे गिरफ्तार करने और विभागीय कार्रवाई के नाम पर बर्खास्त कराने का भय दिखाया। उक्त पुलिसकर्मी से दो लाख रुपए की मांग की गई। 70 हजार से ज्यादा हड़प भी लिए गए। अब पुलिसकर्मी ने शाहगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।
 पीड़ित पुलिसकर्मी ने थाना शाहगंज में मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होंने बताया कि 20 दिसंबर की शाम उनके मोबाइल पर एक अनजान नंबर से वॉट्सऐप पर वीडियो कॉल आई। उन्होंने कॉल रिसीव किया तो एक न्यूड गर्ल दिखी। उन्होंने तत्काल फोन काट दिया। इसके बाद उनके पास दूसरे नंबर से फोन आया। उसने कहा कि तुम्हारी उस लड़की के साथ वीडियो बना ली गई है। उसे यू-ट्यूब पर अपलोड कर दिया गया है। वीडियो को हटवाना चाहते हो तो 25 हजार रुपए भेजो।
 पुलिसकर्मी ने भयवश 21 हजार 500 रुपए यूपीआई दिए। इसके बाद अगले दिन फिर से दूसरे नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने 'खुद को आईपीएस बताया। उसने कहा कि दक्षिणी दिल्ली के द्वारिका थाने में लड़की ने FIR दर्ज करवाई है। जब उन्होंने बताया कि मेरे साथ फ्रॉड हुआ है और मैं पुलिसकर्मी हूं। फिर IPS बनकर बात करने वाला बोला कि तुम तो विभाग के कर्मचारी हो। इसलिए सलाह देता हूं कि मामले बाहर ही निपटा लो। इसके बाद उसने एक लाख रुपए की डिमांड की। पुलिसकर्मी का कहना है कि उसने किसी तरह से 50 हजार रुपए का इंतजाम कर फिर से यूपीआई के जरिए भेज दिया।


पुलिसकर्मी ने बताया कि इसके कुछ दिनों बाद फर्जी आईपीएस का फोन आया। उसने कहा कि शिकायतकर्ता लड़की ने आत्महत्या कर ली है। अब तुम्हारी तो नौकरी भी जाएगी और मुकदमा भी चलेगा। यदि जेल जाने से बचना चाहते हो तो दो लाख रुपए तुरंत भेजो। पुलिसकर्मी ने रुपए न होने की बात कही। इस पर फर्जी आईपीएस उसे हड़काने लगा। इसके बाद पीड़ित ने अपने अधिकारियों को पूरी बात बताई। अधिकारियों के निर्देश पर थाना शाहगंज में मुकदमा दर्ज किया गया है।

No comments: