Breaking

Dec 20, 2022

किसान भाई अपनी फसलों का बीमा अवश्य कराएं - डीएम

 
गोण्डा-20 नवंबर, 2022 मंगलवार को नगर के टाउन हॉल में कृषि विभाग की ओर से परम्परागत कृषि विकास योजना के तहत जनपद स्तरीय विशाल जैविक कृषि मेला और कृषक गोष्ठी का आयोजन किया गया। मेले में कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसान बंधुओं को जैविक खेती के फायदे बताये गये। कृषि, उद्यान और पशुपालन से संबंधित विभिन्न योजनाओं की तकनीकी जानकारियां दी गई।
मेलें का शुभारम्भ मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे जिलाधिकारी डॉ उज्ज्वल कुमार द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस मौके पर जिलाधिकारी ने किसान बंधुओं से बात करते हुए कहा कि मृदा का स्वास्थ्य ठीक रहेगा तभी हम लोगों का स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा। खेती में अधिक रसायन का प्रयोग करने से मनुष्य के स्वास्थ्य पर भारी प्रभाव पड़ रहा है जोकि आने वाली पीढ़ी के भविष्य के लिए भी ठीक नहीं है। इसलिए सभी किसान बंधु रासायनिक खेती की बजाय जैविक खेती करें। जैविक खेती करने से मृदा व फसल पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता है।
उन्होंने कहा कि सभी किसान बंधु अपनी मृदा का स्वास्थ्य परीक्षण जरूर कराएं। सभी कृषक जैविक खेती की ओर आगे बढ़े और ​अन्य किसानों को भी जागरूक करें। जैविक खेती के लिये गौमूत्र गोबर आदि का प्रयोग किया जाये। जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिये कृषि विभाग द्वारा कई प्रयास किये जा रहे है। किसान भाई अधिक से अधिक जैविक खेती करें। खेती के साथ साथ पशुपालन भी करें। इससे किसानों की आय मे वृद्धि होगी। उन्होंने किसानों से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ लेने के लिये कहा। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को किसानो की समस्याओं को सुलझाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी द्वारा मेले में लगे खाद, फसल व कृषि यंत्रों के विभिन्न स्टालों का निरीक्षण भी किया गया। मेले में उपनिदेशक कृषि, जिला कृषि अधिकारी, डिप्टी आरएमओ, कृषि वैज्ञानिक व सैकड़ों की संख्या में किसान बंधु मौजूद रहे! 

No comments: