Breaking

Jan 18, 2023

कुश्ती संघ अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर महिला खिलाड़ियो ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

लखनऊ-भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगाट ने कहा है कि कुश्ती संघ के अध्यक्ष ने कई लड़कियों का यौन शोषण किया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि पुरुष कोच भी लड़कियों का यौन शोषण करते हैं।
दिल्ली के जंतर-मंतर पर भारतीय पहलवान भारतीय कुश्ती संघ के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इस प्रदर्शन में कुल 30 पहलवान शामिल हैं। ओलंपिक और राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतने वाले पहलवान भी इस प्रदर्शन में शामिल हैं। पहलवानों ने भारतीय कुश्ती संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर कई आपत्तिजनक आरोप लगाए हैं। प्रदर्शन में शामिल पहलवान विनेश फोगाट ने कुश्ती संघ के अध्यक्ष और कोच के ऊपर पर महिलाओं को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।विनेश ने अपने बयान में कहा, ''कोच महिलाओं को प्रताड़ित कर रहे हैं और कुश्ती संघ अध्यक्ष के चहेते कुछ कोच महिला कोचों के साथ भी दुर्व्यवहार करते हैं। वे लड़कियों का यौन उत्पीड़न करते हैं। भारतीय कुश्ती संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी कई महिला पहलवानों का यौन उत्पीड़न किया है।'' विनेश फोगाट ने कहा है कि कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण ने कई लड़कियों का यौन शोषण किया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि पुरुष कोच भी लड़कियों और महिला कोच का यौन शोषण करते हैं जंतर-मंतर पर मौजूद पहलवानों ने कहा, ''वे (संघ) हमारे निजी जीवन में भी दखल देते हैं और हमें परेशान करते हैं। वे हमारा हर तरह से शोषण कर रहे हैं। जब हम ओलंपिक में गए थे तो हमारे पास फिजियो या कोच नहीं था। जब से हमने आवाज उठाई है, हमें धमकाया जा रहा है विनेश फोगाट ने कहा "टोक्यो ओलंपिक में हार के बाद भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष ने मुझे 'खोटा सिक्का' कहा। भारतीय कुश्ती संघ ने मुझे मानसिक रूप से भी प्रताड़ित किया। मैं हर दिन अपने जीवन को समाप्त करने के बारे में सोचती थी। अगर किसी पहलवान को कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदारी कुश्ती संघ अध्यक्ष की होगी क्या है । 
भारत के कई दिग्गज पहलवान भारतीय कुश्ती संघ के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली के जंतर-मंतर में प्रदर्शन कर रहे पहलवानों ने राष्ट्रीय महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर तानाशाही के आरोप लगाए हैं। विरोध प्रदर्शन कर रहे पहलवानों में टोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक और विश्व चैम्पियनशिप पदक विजेता विनेश फोगट सहित देश के कई शीर्ष पहलवान शामिल हैं। जिस तरह भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) का संचालन बृजभूषण सिंह कर रहे हैं, पहलवान उससे तंग आ चुके हैं। बृजभूषण शरण सिंह कैसरगंज से भाजपा सांसद भी हैं। उनकी गिनती भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में होती हैं अपने प्रदर्शन को लेकर पहलवान बजरंग पुनिया ने कहा "भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) पहलवानों को परेशान कर रहा है। जो लोग डब्ल्यूएफआई का हिस्सा हैं उन्हें खेल के बारे में कुछ नहीं पता है। पहलवान चल रही तानाशाही को बर्दाश्त नहीं करना चाहते। हम दोपहर 3-4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे और वहां सब कुछ बता देंगे।" ओलंपिक पदक विजेता पहलवान साक्षी मलिक ने कहा "हम रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया का विरोध कर रहे हैं। हम पहलवान यहां इकट्ठे हुए हैं और शाम चार बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। हम अपने सभी मुद्दों को वहां उठाएंगे।" भारतीय कुश्ती संघ के सहायक सचिव विनोद तोमर प्रदर्शन कर रहे पहलवानों से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा "पता नहीं यह किस बारे में है। डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष को लिखे पत्र से पता चला कि कुछ पहलवान विरोध में बैठे हैं। मैं उनसे उनकी समस्या पूछने आया हूं। एक बार जब वे फेडरेशन में आ जाएंगे तो सारे मसले सुलझ जाएंगे। उन्होंने मुझे अभी तक नहीं बताया कि मामला क्या है। अभी तक मेरे या फेडरेशन के सामने इस तरह का कोई मुद्दा नहीं उठाया गया है। मामले में मीडिया से जवाब देते हुऐ सांसद बृजभूषण शरण सिंह का कहना है जो मेरे ऊपर आरोप लगा है ये बहुत बड़ा आरोप है इसकी जांच होगी और जांच कौन करेगा इसको आने वाला समय बताएगा।

No comments: