Breaking












Jan 20, 2023

बुर्का पहनने की वजह से मुस्लिम छात्राओं को कालेज में नहीं मिला प्रवेश छात्राओं ने गेट पर मचाया हंगामा ‌।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में हिंदू कॉलेज में बुर्का पहनकर पहुंची छात्राओं को मुख्य द्वार पर ही रोक दिया गया। कॉलेज ने एक जनवरी से ही पूरी तरह ड्रेस कोड लागू कर दिया है। इसका पालन कराने के क्रम में अनुशासन समिति ने बुर्का पहनकर हाने वाली छात्राओं को प्रवेश नहीं दिया। इस पर छात्राएं मुख्य द्वार पर ही विरोध- प्रदर्शन करने लगीं। वहीं जानकारी मिलने पर समाजवादी पार्टी के छात्र संगठन के पदाधिकारी भी पहुंच गए और नारेबाजी शुरू दी। हालांकि कई मुस्लिम लड़कियों ने ड्रेस कोड लागू करने की सराहना करते हुए बिना बुर्के के ही अंदर गईं।

ड्रेस कोर्ड को पूर्ण रूप से लागू कराने के लिए अनुशासन समिति के सदस्यों के द्वारा महाविद्यालय के मुख्य द्वार पर प्रतिदिन जांच कर रही है। इसी क्रम में बुधवार को भी जांच हो रही थी। इसी बीच बुर्के में आई कुछ छात्राओं को प्रवेश नहीं दिया गया इस वजह से वे विरोध करने लगीं। हंगामा बढ़ता देख जीवविज्ञान संकाय की प्रो. शालिनी राय ने भी छात्राओं को समझाने की कोशिश की लेकिन वे किसी की बात सुनने को राजी नहीं थीं। इसके बाद मुख्य नियंत्रक प्रो. एपी सिंह भी गेट पर पहुंच गए
 प्रो. एपी सिंह ने कहा कि कॉलेज प्रशासन ने छात्र-छात्राओं सुरक्षा और सहूलियत के लिए ड्रेस कोड की व्यवस्था लागू की गई हैं और इसकी सूचना काफी पहले सभी छात्र- छात्राओं को दे दी गई थी। छात्र-छात्राओं को  महाविद्यालय का वेश पहनकर ही आने को लगातार कहा जा रहा था। कॉलेज प्रशासन का निर्णय सभी पर लागू होता है। मुस्लिम छात्राओं के लिए गेट के पास ही बाहर चेंजिंग रूम बनाया गया है।

No comments: