Breaking

Nov 6, 2022

बस्ती में राम राज्‍य की स्‍थापना के साथ रामलीला संपन्न।

बस्ती । जिला में सनातन धर्म संस्था की ओर से आयोजित रामलीला महोत्सव 9वें दिन संपन्न हो गया। श्रीराम के अयोध्या वापसी, रामराज्य की स्थापना और आमजन के लिए प्रभु श्रीराम के नीति उपदेश के साथ रामलीला पूर्ण हुई। रामलीला महोत्‍सव में जिले के 17 स्‍कूलों के 5 सौ बच्‍चों ने मंचीय प्रस्‍तुति दी। इन्‍हें अयोध्‍या के रामलीला मंडली द्वारा प्रशिक्षित किया गया था।    

           उत्‍कृष्‍ट मंचन के लिए सभी विद्यालयों से 17 सर्वश्रेष्ठ कलाकारों का चयन किया गया था। इसमें राजकीय कन्‍या इंटर कालेज प्रथम, रामकुमार विक्रम सिंह इंटर कॉलेज द्वितीय और सरस्वती बालिका विद्या मंदिर रामबाग तृतीय स्थान पर रहा। प्रतिभागी सभी छात्र, छात्राओं, प्रशिक्षक शिक्षकों, विद्यालय प्रबन्‍धन को पुरस्‍कृत किया गया। उन्‍हें राम दरबार का चित्र भेंट किया गया। श्रद्धालुओं में धार्मिक पुस्‍तक भेंट की गई, प्रसाद का वितरण किया गया।   

अंतिम दिन सरस्वती शिशु मंदिर शिवा कॉलोनी के छात्र-छात्राओं द्वारा मंचन किया गया। प्रभु श्रीराम के अयोध्या वापसी पर भरत से मिलाप, श्रीराम के राज्याभिषेक, प्रभु श्रीराम द्वारा प्रजाजनों को जीवन और समाज का उपदेश देने जैसे सजीव मंचन को देखकर श्रद्धालु श्रोता भाव विभोर हो गए। झांकी की पूजन आरती कर कमिश्‍नर गोविंद राजू एनएस ने कार्यक्रम का शुभारम्‍भ किया। कहा कि नई पीढ़ी में इस प्रकार के कार्यक्रम से संस्कारों की नींव पड़ती है, ऐसे कार्यक्रम समाज में निरंतर होते रहने चाहिए।  

कार्यक्रम संरक्षक सेवानिवृत्त कर्नल केसी मिश्रा ने बताया कि यह उत्सव आमजन के सहयोग और समर्पण से महोत्सव के रूप में अपनी पहचान बना चुका है। इस दौरान सांसद हरीश द्विवेदी, आरएसएस के विभाग प्रचारक अजय नारायण, सुशील मिश्रा, सुभाष शुक्ला,कैलाश नाथ दूबे, बृजेश सिंह मुन्ना, पंकज त्रिपाठी ,अनुराग शुक्ला, हरीश त्रिपाठी, कात्यायनी दुबे ,डा. वीरेंद्र त्रिपाठी ,आशीष शुक्ल, रमेश सिंह ,जॉन पाण्डेय, विवेक मिश्र, सहदेव दुबे,सौरभ त्रिपाठी, चंदन सिंह,सत्यम पाण्डेय,रितेश विश्वकर्मा, अजय मिश्र, अंकित त्रिपाठी, अभय त्रिपाठी, दयाभान सिंह, राहुल त्रिपाठी, शिवम, सुनील यादव ,महेंद्र यादव, संदीप, अमन पाण्डेय ,अभिनव उपाध्याय, मनीष, नीरज सिंह सहित बडी संख्‍या में लोग शामिल रहे।    


            रुधौली बस्ती से अजय पांडे की रिपोर्ट

No comments: