Breaking

Oct 15, 2022

उप निदेशक कृषि टी०पी० शाही की अध्यक्षता में आयोजित हुआ महिला किसान दिवस


बहराइच। भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कृषि उत्पादन व राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा में ग्रामीण महिलाओं के सराहनीय योगदान को दृष्टिगत रखते हुये महिला किसान दिवस के रूप में मनाने का निर्देश दिया गया था, जिसके क्रम में ग्राम कीर्तनपुर विकास खण्ड तेजवापुर में महिला किसान दिवस का आयोजन उप निदेशक कृषि टी०पी० शाही की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। इस अवसर पर उप निदेशक कृषि ने ग्रामीण महिलाओं के उत्थान में सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी प्रदान की गयी। श्री शाही ने ग्रामीण महिलाओं के कृषि, शिक्षा आदि क्षेत्रों में किये जा रहे कार्यों की सराहना करते हुये उन्हें अधिक से अधिक शिक्षित होकर सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ प्राप्त करने तथा आगे बढ़ने की सलाह दी। 

प्रभारी अधिकारी कृषि विज्ञान केन्द्र नानपारा के0एम0 सिंह ने कृषि उत्पादन में महिलाओं की प्रतिभागिता की सराहना करते हुये आगामी रबी में ली जाने वाली फसलों की बुवाई व तैयारी की जानकारी दी। कृषि विज्ञान केन्द्र बहराइच के वैज्ञानिक डा० अरुण कुमार राजभर ने कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा महिलाओं के सर्वांगीण विकास हेतु समय-समय पर जनपद में तकनीकी जानकारी प्रदान किये जाने को कहा। श्रीमती प्रिया नन्दा जिला कृषि रक्षा अधिकारी बहराइच ने उपस्थित महिला किसानों को अवगत कराया कि 5-10 प्रतिशत खाद्यान्न की क्षति चूहों द्वारा प्रति वर्ष की जाती है, जिसकी रोकथाम में महिलाओं के योगदान की सराहना करते हुये उनसे अपेक्षा की कि घरों में तथा खेतों में चूहों द्वारा फसलोत्पादन को क्षति पहुंचाने की रोकथाम में अपना सहयोग प्रदान करें। मै० शिवा एग्रो फार्मर्स प्रोड्यूसर कं०लि० बहराइच द्वारा ग्रामीण महिलाओं को उद्यमी बनाने हेतु मशरुम उत्पादन की तकनीक की जानकारी दी तथा कहा कि कम क्षेत्रफल में महिलायें इससे अधिक आय प्राप्त कर सकती है। श्रीमती किरन वैस द्वारा उपस्थित महिलाओं को महिला खाद्य सुरक्षा समूह गठित करने की जानकारी दी तथा गठित महिला खाद्य सुरक्षा समूहों के द्वारा खाद्यान्न भण्डारण, आचार निर्माण, सिलाई कढ़ाई आदि कार्य समूह में करके अच्छी आमदनी प्राप्त कर सकती है। 

इस अवसर पर कृषि विज्ञान केन्द्र नानपारा की वैज्ञानिक डा० हर्षिता, डा० रेनू आर्या एवं अन्य कृषक उत्पादक संगठनों के प्रतिनिधियों द्वारा महिला किसानों को उद्यमी बनने की जानकारी प्रदान कर आय में वृद्धि की जानकारी प्रदान की। इस अवसर पर कृषि एवं एलाइड क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली दो महिलाओ किरन वैश्य व साधना अवस्थी प्रशस्त्रि पत्र व साल देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रगतिशील कृषक श्री अनिरुद्ध यादव श्री अंबिका प्रसाद वर्मा आदि सैकड़ों महिला कृषक उपस्थित रहे। 

ःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःःः

No comments: