Breaking

Oct 20, 2022

डीएम बहराइच के चालक का बेटा बना एसडीएम, 40वीं रैंक की हासिल!घर में जश्न

 

बहराइच/फखरपुर के केतारपुर तखवा गांव निवासी कल्याण सिंह मौर्य ने संघर्षों से हासिल किया मुकाम, एनटीपीसी (NTPC) सोलापुर मुंबई में सहायक प्रबंधक के पद पर रहते हुए पास की पीसीएस की परीक्षा

बहराइच। फखरपुर विकासखंड के केतार पुरवा तखवा गांव निवासी कल्याण सिंह मौर्य ने बहराइच का मान बढ़ाया है। पिता जिलाधिकारी के चालक के पद पर तैनात हैं वही एनटीपीसी (NTPC) सोलापुर मुंबई में सहायक प्रबंधक के पद पर रहते हुए प्रशासनिक सेवा का मन में जज्बा संजोए कल्याण सिंह अपने संघर्ष की बदौलत उपजिलाधिकारी के पद पर चयनित होने में कामयाब रहे है। यह खबर जब बहराइच पहुंची तो परिवारी जन खुशी से उछल पड़े। सभी ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर अपनी खुशी का इजहार किया। वहीं कल्याण सिंह अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरुजनों को दे रहे हैं।

फखरपुर थाना क्षेत्र के केतारपुरवा तखवा निवासी कल्याण सिंह इस समय एनटीपीसी (NTPC) मे सहायक प्रबंधक पद पर सोलापुर मुंबई मे कार्यरत है। पिता जवाहर लाल मौर्य जिलाधिकारी बहराइच के ड्राइवर पद पर तैनात है। जबकि मां का करीब 5 वर्ष पहले निधन हो चुका है। पिता के परिश्रम और कल्याण की लगन और मेहनत, पढ़ाई के प्रति रूचि से ये सब संभव हुआ है। कल्याण सिंह की प्रारंभिक पढ़ाई बहराइच से हुयी है। इंटर के बाद BHU बनारस मे हुयी है, फिर दिल्ली IIT कॉलेज मे MSC करने चले गए, वही से NTPC मे नौकरी ज्वाइन कर कार्य कर रहे थे। नौकरी करने के साथ ही PCS की परीक्षा पास कर प्रशासनिक सेवा में जाने का जुनून था।

अपनी लगन और मेहनत के बल पर कल्याण सिंह ने यह मुकाम भी बुधवार को हासिल कर लिया। पीसीएस का परीक्षा फल निकला तो परिवार में जश्न का माहौल बन गया। ओबीसी कैटेगरी में 40 वीं रैंक पाकर कल्याण सिंह एसडीएम के पद पर चयनित हुए हैं। कल्याण सिंह अपनी सफलता का पूरा श्रेय अपने पापा, मां व बड़े भाई संजय सिंह मौर्या व गुरुजनों को दे रहे हैं। गौरतलब हो कि कल्याण के बड़े भाई संजय सिंह नोयडा मे कंप्यूटर इंजीनियर पद पर कार्यरत हैं।

No comments: