Breaking

Oct 11, 2022

42वी वाहिनी सशस्त्र सीमा बल, एसएसबी के सतत रेस्क्यू ऑपरेशन में जवानों ने गर्भवती महिला को बचाया



बहराइच- अनवरत बारिश के कारण बाढ़ की स्थिति बनी हुई है | 42वी वाहिनी सशस्त्र सीमा बल की राहत एवं बचाव दल की टीम लगातार पिछले 04 दिनों से बचाव का कार्य कर रही है | मंगलवार को  नानपारा तहसील के अंतर्गत ग्राम-हुल्लासपुरवा में बाढ़ में गर्भवती महिला भी फसी हुई थी | जिसको एसएसबी के जवानों द्वारा सुरक्षित बचा लिया गया साथ ही महिला को सीएचसी नानपारा हेतु एम्बुलेंस के द्वारा भेज दिया गया |



राहत एवं बचाव दल द्वारा ज़िला प्रशासन के साथ जनपद के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में चलाया जा रहा राहत एवं  बचाव अभियान जो दिनांक 08.10.22 से प्रारम्भ होकर  लगातार आज चौथे दिन जारी रहा। प्रथम पार्टी द्वारा नानपारा तहसील के ग्राम कलबला, सेबतिया, सूरजिपुर एवं खैरा छिटनपुरवा से कुल 82 नागरिकों  को सुरक्षित निकाला गया एवं 700 नागरिकों को लंच पैकेट एवं रशद सामग्री उपलब्ध करायी गयी एवं द्वितीय पार्टी द्वारा तहसील मिहिपुरवा के अंतर्गत ग्राम ठाकुरपुरवा एवं सालिकपुर के 200 नागरिकों को लंच पैकेट एवं अन्य ज़रूरत की सामग्री वितरित की गयी।

बीते दिनों में एसएसबी ने 388 नागरिकों को सुरक्षित बचा लिया है तथा अन्य फसे नागरिकों को लगातार सुरक्षित बचाया जा रहा है | इसके साथ ही 1840 नागरिकों को रसद सामग्री वितरित की जा चुकी है । एसएसबी की राहत एव बचाव टीम में लखपत सिंह, अजिनस जोसेफ, मोहिंदर, श्याम सिंह, रमाकांत, जोगिन्दर, शिवसागर गोर, दुर्गविजय, वैजनाथ एवं मूनफेद अली तथा दूसरी टीम में पी. पामे, जू. रेड्डी सुरेश, सागर डी पाटिल, मुस्ताक हुसैन, रत्नेश राय, एन. पिटर, एवं रजनीश बचाव का कार्य कर रहे है | यह टीम जिला प्रसाशन के संपर्क में है तथा एसएसबी अधिकारीयों के निर्देशन में बचाव कार्य कर रही है |



No comments: