Breaking

Sep 12, 2022

डीएम ने की मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की समीक्षा

गोण्डा - जिलाधिकारी डॉक्टर उज्ज्वल कुमार की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के संबंध में बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में जिला समाज कल्याण अधिकारी से योजना से संबंधित समीक्षा की गई।  
               बैठक में समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे सिविल सेवा, जेईई, नीट, एनडीए, सीडीएस इत्यादि परीक्षाओं की तैयारी के लिए प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं को निःशुल्क साक्षात व ऑनलाइन प्रशिक्षण दिए जाने हेतु मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना संचालित है।
इस योजना के तहत प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बन्धित परीक्षाओं के स्तर पर समय-समय पर परिवर्तित होते पाठ्यक्रमों के अनुरूप विषय-विशेषज्ञों के द्वारा समुचित प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। इस योजना की शुरूआत (15 फरवरी,2021) को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा की गई थी। प्रस्तुत योजना में अभ्यर्थियों का चयन पात्रता परीक्षा के आधार पर किया जाता है। चयनित अभ्यर्थियों के निःशुल्क प्रशिक्षण के लिए मंडल मुख्यालयों में प्रशिक्षण केन्द्रों की व्यवस्था की गई है। गुणक्तापूर्ण पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराने के लिए ई-लर्निंग कंटेन्ट प्लेटफार्म का सृजन भी किया गया है। इस योजना की खास बात यह है कि वरिष्ठ आईएएस और आईपीएस अधिकारियों के साथ-साथ पीसीएस और पीपीएस अधिकारियों एवं विषय विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन दिया जा रहा है।
       बैठक में जिलाधिकारी ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि इस योजना में विशेष अनुभवी अध्यापकों का चयन करें ताकि तैयारी करने वाले बच्चों को अच्छी से अच्छी शिक्षा प्रदान की जा सके।
             इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 रश्मि वर्मा, प्राचार्य एलबीएस पीजी कॉलेज गोंडा रविंद्र कुमार पांडेय, जिला विकास अधिकारी दिनकर विद्यार्थी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अखिलेश प्रताप सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी जिला समाज कल्याण अधिकारी राजेश चौधरी सहित संबंधित विभाग के अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे।

No comments: