Breaking

Sep 21, 2022

वन स्टाप सेन्टर में महिलाओं के अधिकार विषय पर विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन


गोण्डा-प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ के निर्देशानुसार एवं माननीय जनपद न्यायाधीश श्री रविन्द्र कुमार-। के निर्देशानुसार जनपद गोण्डा के वन स्टाप सेन्टर में महिलाओं के अधिकार विषय पर विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन श्री विश्व जीत सिंह सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण गोण्डा की अध्यक्षता में किया गया। विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर में सचिव द्वारा उपस्थित महिलाओं के सन्दर्भ में बताया गया कि आज का युग ऐसा युग है, जिसमें महिलाओं को संविधान में कई अधिकार दिये गये हैं। आज महिलाएं इस विकासशील भारत में विकसित बनाने के लिए अपना योगदान देती हैं, परन्तु फिर भी उन्हें कई बार अलग-अलग रूपों में प्रताड़ित किया जाता है तथा उनके अधिकारों का हनन किया जाता है। महिला सशक्तीकरण पर जानकारी देतेे यह भी बताया गया कि वर्तमान में महिलाओं को कानूनी अधिकार प्राप्त है जैसे महिलाओं के कार्यस्थल पर छेड़-छाड़/यौन उत्पीड़न से संरक्षण का अधिकार, पुरूषों के समान पारिश्रमिक का अधिकार, यौन उत्पीड़न की पीड़िता का नाम सार्वजनिक न होने का अधिकार, पति अथवा रिश्तेदारों के खिलाफ घरेलू हिंसा से सुरक्षा का अधिकार, कामकाजी महिलाओं को मातृत्व सम्बन्धी लाभ का अधिकार, कन्या भू्रण हत्या के खिलाफ अधिकार, रात में गिरफ्तार न होने का अधिकार, सम्पत्ति में बराबरी का अधिकार, पीड़िताओं को क्षतिपूर्ति पाने का अधिकार व मुफ्त कानूनी सहायता का अधिकार आदि के बारे में विस्तृत रूप से बताया गया तथा महिलाओं से सम्बन्धित कानूनों की विधिवत जानकारी दी गयी।वन स्टाप सेन्टर गोण्डा की प्रभारी अधीक्षिका/काउन्सलर दीप शिखा शुक्ला द्वारा महिलाओं के अधिकार विषय पर जानकारी देते हुए प्रकाश डाला गया तथा महिला एवं बालिकाओं के सुरक्षा एवं संरक्षण पर जानकारी दी गयी। इस अवसर पर स्टाफ नर्स विनीता, रूकमणी जायसवाल, काउन्सलर रिचा तिवारी, श्रीमती अरूण उपाघ्याय मल्टी परपचज वर्कर आदि अन्य कर्मचारीगण सहित महिलाऐं शिविर में उपस्थित रही।

No comments: