Breaking

Sep 13, 2022

सम्मान निधि के पात्रों का गांव-गांव होगा सत्यापन

बस्ती । प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि प्राप्त करने वाले लाभार्थी अपने गांव के लेखपाल, कृषि विभाग के कर्मचारी या तकनीकी सहायक से संपर्क करके अपना सत्यापन करा लें। यह अपील डीएम प्रियंका निरंजन ने की है। उन्होंने बताया है कि इस समय तहसील एवं कृषि विभाग द्वारा योजना के लाभार्थियों का सत्यापन किया जा रहा है लेकिन 50 प्रतिशत से अधिक लाभार्थियों का पता नहीं चल रहा है।      

           विभागीय त्रुटिवश कुछ लाभार्थियों का नाम दूसरे गांव के सूची में भी जुड़ गया है। ऐसी स्थिति में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की अगली किस्त प्राप्त करने के लिए यह आवश्यक है कि किसान अपना सत्यापन करा लें। अन्यथा की स्थिति में उन्हें अगली किस्त नहीं प्राप्त हो पाएगी। डीएम ने इस संबंध में हर्रैया तहसील में अधिकारियों के साथ बैठक करके सत्यापन की स्थिति का जायजा लिया।

इसके लिए उन्होंने सीडीओ डॉ. राजेश कुमार प्रजापति को नोडल नामित किया है। सीडीओ ने अलग-अलग ब्लॉक के लिए नोडल अधिकारी नामित करने के साथ ही सहायक नोडल तथा गांव के लेखपाल, ग्राम पंचायत अधिकारी तथा अन्य कर्मचारियों को सहायक के रूप में तैनात किया है। नोडल अधिकारी प्रतिदिन प्रातः नौ बजे तहसील हर्रैया पहुंचकर एसडीएम को रिपोर्ट करेंगे। उनके द्वारा निर्धारित गांव में जाकर लाभार्थियों का सत्यापन करेंगे।    

             रुधौली बस्ती से अजय पांडे की रिपोर्ट

No comments: