Breaking

Oct 11, 2022

अब केवल मुलायम सिंह यादव से जुड़ी यादें रह गईं हैं: सूरज सिंह गोण्डा

गोण्डा - 2009 का लोकसभा चुनाव सर पर था, उस वक़्त गोण्डा से मौजूदा साँसद कीर्तिवर्धन सिंह राजा भैया थे, पूर्व मंत्री स्मृतिशेष पंडित सिंह भी गोण्डा से लोकसभा चुनाव लड़ने के इच्छुक थे।
मुझे याद है उस दिन पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को सपा में शामिल होना था उसके बाद सपा कार्यालय से नेताजी को अमर सिंह के साथ वाराणसी जाना था, नेताजी की गाड़ी कार्यालय से निकली उन्होंने मंत्री जी को खड़े देखकर गाड़ी रोकी और बोले कि परेशान न हो एयरपोर्ट पर मिलो! हम सब लोग भागकर एयरपोर्ट पर पहुँच कर लगभग 4 घंटे इंतज़ार किया, शाम 6 बजे नेताजी की फ्लाइट लखनऊ लैंड हुई , पहले नेताजी का काफिला तेजी से बाहर निकला हम लोग पहले से रास्ते पर खड़े थे नेताजी ने गाड़ी रोककर मंत्रीजी को बुलाया और गाड़ी में बैठे बैठे कहा कि अमर सिंह को मना लो मैंने कह दिया है!
फिर अमर सिंह टर्मिनल से बाहर आये और हम सब ने उनसे आग्रह किया उन्होंने भी आश्वासन दिया और चले गए!
नेताजी पहले से ही पण्डित सिंह जी को लड़ाना चाहते थे बस अमर सिंह की भी रजामंदी चाहते थे, बाद में गोण्डा से टिकट भी दिया।
ऐसे न जाने कितने नेताजी से जुड़े हैं जिसे बयान कर पाना मुश्किल है।
सूरज सिंह गोण्डा

No comments: