Breaking

Dec 20, 2022

2 दिवसीय अभिमुखीकरण कार्यशाला का समापन

बस्ती । में कोल्ड चेन हैंडलर्स के दो दिवसीय अभिमुखीकरण कार्यशाला का आज मंगलवार को समापन हुआ। एएनएम प्रशिक्षण केंद्र में आयोजित कार्यशाला में जिले भर के 19 कोल्ड चेन प्वाइंट के 38 कर्मियों ने प्रतिभाग किया। अस्पतालों में उपलब्ध नियमित टीकाकरण और अन्य वैक्सीन की गुणवत्ता बनाए रखने पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से विशेष जोर दिया जा रहा है। कार्यशाला का आयोजन जिला स्वास्थ्य समिति की ओर से किया गया। यूनिसेफ सहित अन्य संगठनों ने सहयोग प्रदान किया।    

          जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि सरकारी अस्पतालों में बने कोल्ड चेन प्वाइंट्स में अत्याधुनिक आईएलआर मशीन में वैक्सीन को रखा जाता है। इसका तापमान 2 से आठ डिग्री तक निर्धारित है। नियमित टीकाकरकण के तहत 5 साल में 7 बार टीकाकरण होता है। यह टीके बच्चों को कुल 12 प्रकार की जानलेवा बीमारियों से बचाने में मददगार हैं। गर्भवती महिलाओं, किशोर, किशोरियों का भी टीकाकरण किया जा रहा है। टीकाकरण की सुविधा सभी के लिए स्वास्थ्य इकाईयों पर उपलब्ध है। इसमें आशा व एएनएम की मदद ली जा सकती है। कुछ टीका लगने के बाद बुखार भी आता है, लेकिन यह सामान्य लक्षण है।   

ई-विन के माध्यम से वैक्सीन का रख-रखाव आसान
यूएनडीपी संस्था के जिला वैक्सीन कोल्ड चेन मैनेजर हरेन्द्र मिश्रा ने बताया कि ई-विन के माध्यम से वैक्सीन का रख-रखाव आसान हुआ है। इसके माध्यम से स्टॉक, एक्सपॉयरी, तापमान आदि पर कहीं से नजर रखी जा सकती है। चाई संस्था के जिला समन्वयक मुकेश दूबे ने बताया कि वैक्सीन का कोल्ड चेन कभी टूटने न पाए। अगर कोई तकनीकी बाधा आती है तो वैक्सीन को ट्रांसफर कर उनकी गुणवत्ता बनाए रखना है।

ये लोग रहे मौजूद
इस दौरान डीएचईआईओ राजेश कुमार चौधरी, यूनिसेफ की डीएमसी अनीता सिंह, अब्दुल वारिस आदि मौजूद रहे।    

           रुधौली बस्ती से अजय पांडे की रिपोर्ट 

No comments: